रात की चांदनी से मांगता हु सवेरा

myshayaris

रात की चांदनी से मांगता हु सवेरा फूलों की चमक से मांगता हु रंग गहरा दौलत शोहरत से ताल्लुख़ नहीं है मेरा मुझे चाहिए हर सुबह में बस साथ तेरा     जो मुस्कुरा रहा है, उसे दर्द ने पाला होगा.. जो चल रहा है, उसके पाँव में छाला होगा.. बिना संघर्ष के इन्सान चमक नही सकता, यारों.. जो जलेगा उसी दिये में तो, उजाला होगा.     आपकी नयी…

Continue reading

समझा दो अपनी यादो को वो बिन बुलाये पास आया करती है

myshayaris

समझा दो अपनी यादो को, वो बिन बुलाये पास आया करती है, आप तो दूर रहकर सताते हो मगर, वो पास आकर रुलाया करती है !!       नज़र ने नज़र से मुलाक़ात कर ली, रहे दोनों खामोश पर बात करली, मोहब्बत की फिजा को जब खुश पाया, इन आंखों ने रो रो के बरसात कर ली !!         उलफत का अकसर यही दस्तूर होता है,…

Continue reading

सदीयो से जागी आँखो को एक बार सुलाने आ जाओ माना की तुमको

myshayaris

सदीयो से जागी आँखो को, एक बार सुलाने आ जाओ, माना की तुमको प्यार नहीं, नफरत ही जताने आ जाऔ जिस मोङ पे हमको छोङ गये, हम बैठे अब तक सोच रहे क्या भुल हुई क्यो जुदा हुए, बस यह समझाने आ जाओ!   ना जाने क्या सोच कर लहरें साहिल से टकराती हैं; और फिर समंदर में लौट जाती हैं; समझ नहीं आता कि किनारों से बेवफाई करती हैं;…

Continue reading